Advertisement

नम आंखों के साथ फौजी राघवेंद्र को दी गई अंतिम विदाई

Pankaj Panday
Sunday, October 6, 2019 | October 06, 2019 WIB Last Updated 2021-02-23T06:11:19Z

औंग। राजकीय सम्मान के साथ फौजी राहुल उर्फ राघवेंद्र अंतिम संस्कार गुनीर गंगा घाट में किया गया। जवान को सेना की टुकड़ी ने अंतिम सलामी दी। शव यात्रा में उमड़े जन सैलाब ने वंदे मातरम राघवेंद्र सिंह अमर रहे के नारे लगाए।

शुक्रवार रात बुलेट से अपने साथी सैनिक के साथ घर लौटते समय सड़क हादसे में फौजी राघवेंद्र सिंह उर्फ राहुल की मौत हो गई थी। बुलट पर इनके साथ मौजूद साथी फौजी प्रमोद घायल हुए थे। शनिवार सुबह कानपुर से सेनानायक मुकेश कुमार के नेतृत्व में 14 गार्डस की सैनिक टुकड़ी ने राघवेंद्र के शव को सलामी दी। 

 गंगाघाट पर केंद्रीय राज्य मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति, पूर्व ब्लाक प्रमुख सुरेंद्र सिंह गौतम, पूर्व जिलाध्यक्ष दिनेश वाजपेयी, सैनिक को सलामी देने आए सेना के जवान भी अपने आंसू नहीं रोक पाए। सेनानायक मुकेश कुमार ने मृत सैनिक राघवेंद्र सिंह की मां गीता देवी, पिता आनंदपाल सिंह, बहनों व परिजनों को ढांढस बंधाते हुए सेना की तरफ से हर संभव सहायता देने का आश्वासन दिया हैं। वहीं केंद्रीय राज्य मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति गंगा घाट और जवान के घर पहुंचीं और परिजनों को ढांढस बंधाया।


Comments
comments that appear entirely the responsibility of commentators as regulated by the ITE Law
  • नम आंखों के साथ फौजी राघवेंद्र को दी गई अंतिम विदाई

Trending Now

Advertisement

iklan