Advertisement

सत्रह साल की उम्र में हुआ प्यार, शिवानी की मौत की वजह बना !

Pankaj Panday
Wednesday, February 10, 2021 | February 10, 2021 WIB Last Updated 2021-02-23T06:11:09Z

शिवानी की उम्र मजह 17 साल रही होगी जब उसे अपनें से उम्र में बड़े लड़के से प्यार हुआ , अब यह उसका प्यार था या फिर ना समझी  वजह चाहे जो भी रही हो लेकिन उस रात जो शिवानी के साथ हुआ उसे सोचकर ही शरीर में सिहरन दौड़ जाती है  की क्या प्यार का अंत इतना भी खौफनाक हो सकता है. 

 



उस दिन तारीख थी 6 फरवरी 2021 और जगह थी फतेहपुर से 35 किलोमीटर दूर सरवल का सरकारी ट्यूबेल,जहाँ एक लड़की के सर को चाकू से तीन लोग एक घंटे तक काटते रहे और फिर लड़की के सर को एक कुए में फेक दिया लड़की को काटनें के लिए सब्जी काटने वाले चाकूओ का इस्तेमाल किया  गया यह लड़की कोई और नहीं वही शिवानी थी जिसे प्यार भगवान् से भी बड़ा और ईश्वर से ऊँचा लग रहा था !!


लेकिन अब सवाल था की आखिर शिवानी के साथ ऐसा किसनें किया और क्यों किया। कौन था ओ कातिल जिसनें शिवानी की इतनी बेरहमी से ह्त्या की ? इस सवाल का जवाब आप को बातए उससे पहले ये जान लीजिए ! यह खौफनाक वरदाद उस अधपके प्यार का नतीजा थी जो कही भी कसी से भी चंद मिनटों में हो जाता है जिसका अंजाम शायद कुछ ऐसा ही होता है.


दरसल आज से करीब डेढ़ महीनें पहले सेवरामाऊ के रहनें वाले भोला दुबे उर्फ पंडित को लखनऊ के आदमपुर नौबस्ता की रहनें वाली 17 साल की शिवानी से प्यार हुआ प्यार परवान चढ़ा तो दोनों चोरी छिपे मिलनें लगे यह सिलसिला चल ही रहा था की इस कहानी में उस वक्त नया मोड़ आ गया जब शिवानी ने भोला से शादी का प्रस्ताव रख दिया लेकिन भोला इस शादी के लिए तैयार बिलकुल नहीं था उसे को डर था अपनी बिरदारी का ,उसे दर था, अपनें परिवार का  क्योकि शिवानी पासवान थी और भोला ब्रह्माण ? और यही से दोनों के बीच दूरियों ने जन्म लिया . 


 भोला अब शिवानी से दूरियाँ बना रहा था लेकिन शिवानी भोला पर शादी लगातार दबाव बना रही थी जब भोला को लगा की शिवानी से पीछा छुड़ाना इतना आसान नहीं है तो उसनें अपने चचरे भाई के साथ मिलकर रची एक खौफनाक साजिश भोला 25 नवंबर को शिवानी को सेवरामऊ गांव लाया था।  और फिर   27 नवंबर को शिवानी को बांदा के दांदो मामा उमेश के घर पहुंचा दिया।


लेकिन भोला का लगातार वहाँ आता जाता रहा लेकिन ह्त्या वाले दिन शिवानी शादी करने की जिद पर अड़ी थी। इस पर भोला ने अपने चचेरे भाई और मामा के साथ मिल कर शिवानी को ठिकाने लगाने की योजना बनाई  । घटना की रात बाइक से शिवानी को भोला घर छोड़ने की बात कहकर सेवरामऊ  लेकर आया लेकिन गाँव से आधा किलोमीटर पहले ही भोला ने बाइक रोक दी। इधर सरवल गांव के खेत में अमित पहले से उनका इंतजार कर रहा था।


भोला ने शिवानी को पहले दुपट्टे से गला घोंटकर हत्या की। इसके बाद उसकी पहचान छिपाने के लिए शिवानी की तीनों ने बारी-बारी से गर्दन काटी गला काटने में तीनों को करीब एक घंटे का वक्त लगा। खून से सने कपड़े, कटी हुई गर्दन शिवानी के बैग में भरकर कुएं में फेंक कर ये फरार हुए थे।  


लेकिन मृतका शिवानी के शव के पास एक पर्ची मिली जिसमें दो मोबाइल नंबर दर्ज थे। उन्ही में से एक नंबर किशनपुर के उमेश का था  जिसनें शिवानी के कातिलों को सलाखों के पीछे पहुंचा दिया   फिलहाल सभी आरोपी पुलिस की गिरफ्त में है लेकिन जिस तरह से शिवानी के साथ प्यार में धोखा हुआ ओ उन प्यार करने वालों को आगाह जरूर करता है जो प्यार पागल हो जाते है। 


  

 

Comments
comments that appear entirely the responsibility of commentators as regulated by the ITE Law
  • सत्रह साल की उम्र में हुआ प्यार, शिवानी की मौत की वजह बना !

Trending Now

Advertisement

iklan